कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, दिल्ली क्षेत्र
EPFO Delhi North, South and Laxmi Nagar नियोक्ता ई-सेवा पोर्टल सेवा प्रारम्भ हो चुकी है । कृपया नियोक्ता ई-सेवा पोर्टल के लिये यहाँ क्लिक करें        |       नियोक्ता ई-सेवा पर कैसे पंजीकरण करें               कृपया अपने दावा प्रपत्र का आवेदन, पासबुक/विवरण प्रतिलिपि (फोटोकॉपी) एवं प्रत्येक दावा प्रपत्र में मोबाइल नंबर के साथ प्रस्तुत करें ।                  एनईएफटी (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर) के माध्यम से भुगतान के लिए कृपया आई एफ़ एस सी कोड एवं अपने बैंक पासबुक की फोटोकॉपी मुहैया करायें ।              कर्मचारियों से निवेदन है कि वर्ष 2011-2012 के लिये अपना वार्षिक विवरण सॉफ्ट एवं हार्ड दोनों कॉपी में प्रस्तुत करें ।              दिल्ली उत्तर क्षेत्र के नियोक्ता ध्यान दें : भारतीय स्टेट बैंक में क्षेत्र/कार्यालय कोड में ’DL’ के स्थान पर 'DL/CPM' लिखकर जमा किये जा सकते हैं । उदाहरणार्थ : DL/2456/000 को इस प्रक्रार लिखें DL/CPM/2456/000 EPFO Delhi North, South and Laxmi Nagar
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, दिल्ली क्षेत्र कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, दिल्ली क्षेत्र कर्मचारी भविष्य निधि संगठन, दिल्ली क्षेत्र
.: कर्मचारी - नामांकन :.
 

सदस्यता के लिये पात्रता:

क) कर्मचारी भविष्य निधि संगठन:

  1. हर कर्मचारी (अंशकालिक कर्मचारियों और ठेकेदारों के माध्यम से कार्यरत लोगों सहित) कारखाने या अन्य प्रतिष्ठान में शामिल होने की तारीख से इस योजना का सदस्य बनने का हकदार होगा (अनुच्छेद 26) ।
  2. प्रत्येक बहिष्कृत कर्मचारी उसी दिन से सदस्य बनने का अधिकारी/हकदार होगा जिस दिन से उसे स्थगित किया गया है ।
  3. एक छूट दी गई जो इस योजना को लागू करने के लिए स्थापना जहाँ यह योजना लागु है, में शामिल होने पर भविष्य निधि के हर सदस्य को छूट दी गई है ।
  4. कोई भी कर्मचारी, जो अन्यथा उसे और उसके नियोक्ता द्वारा अनुरोध करने के लिए इस योजना के सदस्य बनने के पात्र नहीं है.
  5. प्रत्येक अखबार का कर्मचारी, निष्काषित कर्मचारियों के अतिरिक्त 3 माह लगातार सेवा/नौकरी करने के पश्चात या अगर वह वास्तव में 3 महीने या उससे कम समय के दौरान 60 दिनों के लिए काम किया है, सदस्य बनने के हकदार हो जाएगा । (अखबार के कर्मचारी के मामले में कोई मजदूरी की उच्चतम सीमा तय नहीं है) । (अनुच्छेद 80)
  6. प्रत्येक सिने कर्मचारी, निष्काषित कर्मचारियों के अतिरिक्त, वास्तव में एक या अधिक निर्माताओं के साथ 3 फीचर फिल्मों से अधिक में काम किया है, सदस्य बनने के हकदार हो जाएगा, इस शर्त के साथ कि जुड़ने के समय निधि रुपये 1600/- प्रति माह या रुपये 15,000 / - प्रति वर्ष से अधिक न हो । (अनुच्छेद 81)

नोट : 1-11-1990 से प्रभावी, कर्मचारी प्रतिष्ठान से जुड़ने के पहले ही दिन से सदस्यता का पात्र होगा ।

ख) कर्मचारी पेंशन योजना :

  1. प्रत्येक कर्मचारी जो कर्मचारी भविष्य निधि योजना का सदस्य 16-11-1995 या उसके बाद बना है । (कर्मचारी जिसने 58 वर्ष की या उससे अधिक की आयु पर प्रतिष्ठान में शामिल हुआ है वह इस योजना के लिये अयोग्य होगा)
  2. प्रत्येक कर्मचारी, जो कर्मचारी भविष्य निधि योजना १९५२ का सदस्य है और अभी तक कर्मचारी पारिवारिक पेंशन योजना को नहीं चुना है, भी सदस्य बन सकता है यदि वह कर्मचारी पारिवारिक पेंशन योजना को चुन लेता है ।
  3. प्रत्येक कर्मचारी, जो कर्मचारी भविष्य निधि योजना १९५२ का सदस्य है और 1-4-93 और 15-11-95 के बीच नौकरी छोड़ चुका है, वह भी कर्मचारी पेंशन योजना को विकल्प देकर चुन सकता है ।

नोट: कर्मचारी पेंशन योजना उस दिन समाप्त हो जाती है जिस दिन सद्स्य कि आयु 58 वर्ष हो जाती है । फिर भी जब तक वह नौकरी नहीं छोड़ देता और समस्त भविष्य निधि को नहीं निकाल लेता, तब तक वह कर्मचारी भविष्य निधि की सदस्यता को जारी रख सकता है ।

ग) कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना:

हर कर्मचारी जो कर्मचारी भविष्य निधि योजना / छूट दी भविष्य निधि योजना के सदस्य बन जाते हैं ।

प्रशासनिक प्रभार

क) कर्मचारी भविष्य निधि योजना:
कुल मजदूरी जिसमें भविष्य निधि को वसूलना हो, का १० प्रतिशत जो कि कम से कम रुपये ५/- नियोक्ता द्वारा प्रति माह दिया जाना है । पिछले 1.8.98 से प्रभावी 1.8.98 कुल मजदूरी की .65%

ख) कर्मचारी पेंशन योजना योजना:
कोई प्रशासनिक शुल्क नियोक्ता द्वारा नहीं दिया जाना है । समस्त देय / राशि केंद्र सरकार द्वारा वहन की जाती है ।

ग) कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना:
कुल का 0.01% जिसमें कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना का अंशदान शामिल है जो कि कम से कम रुपये 2/- प्रति माह है ।

निरीक्षण प्रभार

क) कर्मचारी भविष्य निधि योजना:
कुल मजदूरी का 0.18%, जो भविष्य निधि बरामद किया है ।

ख) कर्मचारी पेंशन योजना योजना:
कुछ नहीं है ।

ग) कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना:
कर्मचारी जो कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना का हकदार है, के कुल वेतन का 0.005% जो कि कम से कम रुपये 1/- होगा ।

कर्मचारी के कर्तव्य

क) कर्मचारी भविष्य निधि योजना (अनुच्छेद 36) एवं (अनुच्छेद 36A):

  1. योग्य / पात्र कर्मचारी को कर्मचारी भविष्य निधि ग्राहक के रूप में सही तिथि से पंजीकृत करें ।
  2. प्रारम्भिक वापसी विवरण फार्म 5A , F9 (परिवर्तित) , F2 (परिवर्तित) के साथ, मासिक वापसी विवरण F5 में, F2 के साथ, F10, F12A चालान के साथ एवं वार्षिक वापसी विवरण F3A और F6A के साथ जमा करें.
  3. निरीक्षक के निरीक्षण के लिये निरीक्षण पुस्तिका को बनाना एवं उसे कायम / जारी रखना ।
  4. कर्मचारी द्वारा दिये गये अँशदान राशि का विवरण उचित खाते में रखें ।
  5. योजना के अनुपालन के लिये केंद्रीय बोर्ड द्वारा जारी किये गये निर्देशों का अनुपालन करना ।

माह समाप्ति के 15 दिनों के भीतर निधि जिसमे अँशदान का हिस्सा और प्रशासनिक शुल्क या निरीक्षण शुल्क शामिल है, जमा करें ।

ख) कर्मचारी पेंशन योजना योजना (अनुच्छेद 20 ई. पी. एस. 95):
नियोक्ता द्वारा अलग से वापसी विवरण दाखिल करने कि आवश्यक्ता नहीं है । माह समाप्ति के 15 दिनों के भीतर निधि पेंशन निधि में जमा करें ।

ग) कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना (अनुच्छेद 10):
नियोक्ता द्वारा अलग से वापसी विवरण दाखिल करने कि आवश्यक्ता नहीं है । माह समाप्ति के 15 दिनों के भीतर अँशदान और प्रशासनिक शुल्क या निरीक्षण शुल्क शामिल है, जमा करें ।

सद्स्य क्या करें :

  1. प्रतिष्ठान से जुड़ते समय अपने पूर्ववर्ती नियोक्ता/रोज़गार के विषय में भविष्य निधि खाता संख्या व योजना प्रपत्र के साथ, यदि कोई हो तो, जानकारी दें ।
  2. पहले से रहे भविष्य निधि/पेंशन खाते की दशा में, पूर्व खाते को नये खाते में हस्तांतरित करने के लिये आवेदन करें ।
  3. यह निश्चिंत कर लें कि फार्म भरकर जमा करते समय कर्मचारी ने पूर्व भविष्य निधि खाता संख्या का उल्लेख कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में किया है ।
  4. भविष्य निधि के लिये अपने और नामिति का विवरण तथा परिवार का विवरण भरने के लिये फार्म - 2 प्रस्तुत करें और यह सुनिष्चित करें कि नियोक्ता ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में इसे भेजकर जमा करा दिया है । 
  5. यह सुनिष्चित कर लें कि सभी विवरण सही भरे हैं ।
  6. यह सुनिष्चित कर लें कि प्रतिष्ठान से जुड़ते ही आप कर्मचारी भविष्य निधि / पेंशन योजना में पंजीकृत हो चुके है ।
  7. भविष्य निधि, सांविधिक दर से कुल वेतन जैसे डी. ए. व अन्य भते यदि कोई हैं, से कटेंगे ।
  8. यदि आप अंशदान की दर को बढ़ाना चाहते हों तो अधिक दर की अभिलाषा को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को नियोक्ता के माध्यम से सूचित करें एवं नियोक्ता को बढ़े दर से राशि काटने की अनुमति/अधिकार दें ।
  9. यदि मिलने वाले भत्ते रुपये 6500/- से अधिक हैं तो सम्पूर्ण राशि को अंशदान देने की इच्छा को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को नियोक्ता के माध्यम से बतायें । नियोक्ता भी भत्ते की सम्पूर्ण राशि को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को सूचित करके अंशदान जमा कर सकता है ।
  10. समय समय पर नियोक्ता के साथ जाँचते रहें कि अंशदान एवं अन्य शुल्क कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में जमा हो रहे हैं और इसकी सत्यता की जाँच नियोक्ता द्वारा प्रदान किये फ़ार्म - 3A के माध्यम से कर सकते हैं ।

सद्स्य क्या न करें :

  1. कृपया नियोक्ता तथा कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को कोई भी गलत स्पष्टीकरण और गलत जानकारी न दें ।
  2. कृपया किसी भी मध्यस्थ / एजेण्ट के शिकार न बनें । कर्मचारी भविष्य निधि संगठन का कोई भी मध्यस्थ या एजेंट नहीं है ।
  3. नियोक्ता को अपने हिस्से का अंशदान या प्रशासनिक शुल्क  जो उसको जमा करना है, अपने वेतन से न काटने दें ।
  4. भविष्य निधि के भुगतान से बचने के लिये किसी अवर्गीकृत भत्ते का हिस्सा न बनें न ही उसे अपनायें ।

 

 

तत्काल सम्पर्क / कड़ियाँ

 
» हमसे सम्पर्क करें
» अपने दावे की स्थिति जानें
» अपनी भविष्य निधि शेष राशि जानें
» भारतीय स्टेट बैंक की शाखायें
» स्थापना की जानकारी (खोजें)
» ई-रिटर्न टूल्स
» सदस्य पोर्टल
» नियोक्ता ई-सेवा
» शिकायतें
» सामान्य त्रुटियाँ
» वार्षिक प्रतिवेदन
» दीर्घा
» समाचार एवं घटनायें
» अद्यतनीकरण
» त्वरित लिंक
» अस्वीकृति
» ई-मेल (एन आई सी)

 

नियोक्ता ई-सेवा पोर्टल सेवा प्रारम्भ हो चुकी है । कृपया नियोक्ता ई-सेवा पोर्टल के लिये यहाँ क्लिक करें        |       नियोक्ता ई-सेवा पर कैसे पंजीकरण करें               कृपया अपने दावा प्रपत्र का आवेदन, पासबुक/विवरण प्रतिलिपि (फोटोकॉपी) एवं प्रत्येक दावा प्रपत्र में मोबाइल नंबर के साथ प्रस्तुत करें ।                  एनईएफटी (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर) के माध्यम से भुगतान के लिए कृपया आई एफ़ एस सी कोड एवं अपने बैंक पासबुक की फोटोकॉपी मुहैया करायें ।              कर्मचारियों से निवेदन है कि वर्ष 2011-2012 के लिये अपना वार्षिक विवरण सॉफ्ट एवं हार्ड दोनों कॉपी में प्रस्तुत करें ।              दिल्ली उत्तर क्षेत्र के नियोक्ता ध्यान दें : भारतीय स्टेट बैंक में क्षेत्र/कार्यालय कोड में ’DL’ के स्थान पर 'DL/CPM' लिखकर जमा किये जा सकते हैं । उदाहरणार्थ : DL/2456/000 को इस प्रक्रार लिखें DL/CPM/2456/000

कार्यालय अपर केन्द्रीय भविष्य निधि कमिश्नर, (दिल्ली एवं उत्तराखण्ड), भविष्य निधि भवन, 8वां तल, 28, कम्यूनिटी सेंटर,वज़ीरपुर इंडस्ट्रीयल एरिया, दिल्ली-110052.
ई-मेल: acc.dlut@epfindia.gov.in

 

सर्वाधिकार सुरक्षित - कार्यालय अपर केन्द्रीय भविष्य निधि कमिश्नर, (दिल्ली एवं उत्तराखण्ड)                                         वेबसाइट का सृजन समुदित टेक्नोलॉजीज़ के द्वारा किया गया है